Updated

Post Top Ad

Your Ad Spot

100+ Latest Sad Shayari in Hindi 2020

100+ Latest Sad Shayari in Hindi 2020


we presents you best shayari message in the category of sad shayari in hindi for girlfriend and most of the sad shayari in hindi for life also available with very sad shayari sad shayari status if you are really really sad then sad love shayari in hindi for boyfriend also available check all the status and we do new sad shayari sad shayari in english we work for also emotional shayari

100+ Latest Sad Shayari in Hindi 2020


  💙💛💜 जख़्म इतना गहरा हैं इज़हार क्या करें।
हम ख़ुद निशां बन गये ओरो का क्या करें।
मर गए हम मगर खुली रही आँखे हमरी।
क्योंकि हमारी आँखों को उनका इंतेज़ार हैं। 💙💗🧡


  💙💛💜 इन्ही पत्थरों पे चल कर अगर आ सको तो आओ,
मेरे घर के रास्ते में कोई कहकशाँ नहीं है। 💙💗🧡


  💙💛💜 “कितना बुरा लगता है,
जब बादल हो और बारिश ना हो,
जब आंखे हो और ख़्वाब ना हो,
जब कोई अपना हो और कोई पास ना हो।” 💙💗🧡


  💙💛💜 “ज़िन्दगी में सबसे ज्यादा दुख दिल टूटने पर नही भरोसा टूटने पर होता है,
क्योंकि हम किसी पर भरोसा कर के ही दिल लगाते है।” 💙💗🧡


  💙💛💜 “किसी ने पूछा इतना अच्छा कैसे लिख लेते हो,
मैंने कहा दिल तोड़ना पड़ता है,
लफ़्ज़ों को जोड़ने से पहले” 💙💗🧡


  💙💛💜 “तेरी मोहब्बत को कभी खेल नहीं समझा,
वरना खेल तो इतने खेले है मैंने कि कभी भी हारा नहीं” 💙💗🧡


  💙💛💜 वो बात क्या करें जिसकी कोई खबर ना हो।
वो दुआ क्या करें जिसका कोई असर ना हो।
कैसे कह दे कि लग जाय हमारी उमर आपको।
क्या पता अगले पल हमारी उमर ना हो। 💙💗🧡

100+ Latest Sad Shayari in Hindi 2020



  💙💛💜 मोहब्बत मुकद्दर है कोई ख़्वाब नही।
ये वो अदा है जिसमें हर कोई कामयाब नही।
जिन्हें मिलती मंज़िल उंगलियों पे वो खुश है।
मगर जो पागल हुए उनका कोई हिसाब नही। 💙💗🧡


  💙💛💜 दर्द को दर्द अब होने लगा है।
दर्द अपने गम पे खुद रोने लगा है।
अब हमें दर्द से दर्द नही लगेगा।
क्योंकि दर्द हमको छू कर खुद सोने लगा है। 💙💗🧡


  💙💛💜 बिछड़ कर आप से हमको ख़ुशी अच्छी नहीं लगती,
लबों पर ये बनावट की हँसी अच्छी नहीं लगती,
कभी तो खूब लगती थी मगर ये सोचते हैं हम,
कि मुझको क्यों मेरी ये ज़िन्दगी अच्छी नहीं लगती। 💙💗🧡


  💙💛💜 “कुछ गैर मुझे ऐसे मिले जो मुझे अपना बना गए और
कुछ अपने ऐसे मिले जो मुझे गैर का मतलब बता गए।” 💙💗🧡


  💙💛💜 सामने मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना ।
जो मन मे हो वो ख़्वाब ना तोड़ना ।
हर कदम पर मिलेगी सफ़लता ।
बस आसमान छूने के लिए जमीन ना छोड़ना । 💙💗🧡


  💙💛💜 प्यार में मौत से डरता कोन है ।
प्यार हो जाता है करता कोन है।
आप जैसे यार पर हम तो क्या सारी दुनियां फिदा है।
लेकिन हमारी तरह आप पर मरता कौन है। 💙💗🧡


  💙💛💜 चेहरे पर हँसी छा जाती है।
आँखों में सुरूर आ जाता है।
जब तुम मुझे अपना कहते हो।
अपने आप पर ग़ुरूर आ जाता है। 💙💗🧡

100+ Latest Sad Shayari in Hindi 2020



  💙💛💜 मैं किसे सुना रहा हूँ ये ग़ज़ल मोहब्बतों की,
कहीं आग साजिशों की कहीं आँच नफरतों की,
कोई बाग जल रहा है ये मगर मेरी दुआ है,
मेरे फूल तक न पहुँचे ये हवा तज़ामतों की। 💙💗🧡


  💙💛💜 वही वहशत, वही हैरत, वही तन्हाई है मोहसिन,
तेरी आँखें मेरे ख़्वाबों से कितनी मिलती-जुलती हैं। 💙💗🧡


  💙💛💜 मोहब्बत में न अपना कोई ठिकाना रहा,
सारी उम्र बस उनका आना-जाना रहा,
हमने राज खुलने न दिए दिल के उनपर,
खतों में हर्फ़ का लिखना मिटाना रहा। 💙💗🧡


  💙💛💜 कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये,
दुनिया खड़ी है राह में दीवार की तरह,
वो बेवफ़ाई करके भी शर्मिंदा ना हुए,
सजाएं मिली हमें गुनहगार की तरह। 💙💗🧡


  💙💛💜 भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत,
तो भूलके तुमको संभालना हमें भी आता है,
मेरी फ़ितरत में ये आदत नहीं है वरना,
तेरी तरह बदल जाना मुझे भी आता है। 💙💗🧡


  💙💛💜 आखिरी बार तेरे प्यार को सजदा कर लूं,
लौट के फिर तेरी महफ़िल में नहीं आऊंगा,
अपनी बर्बाद मोहब्बत का जनाज़ा ले कर,
तेरी दुनिया से बहुत दूर चला जाऊंगा। 💙💗🧡


  💙💛💜 उदास नज़रो में ख़्वाब मिलेंगे।
कभी काटे तो कभी गुलाब मिलेंगे।
मेरे दिल की किताब को मेरी नज़रो से पढ़ कर तो देखो।
कही आपकी यादे तो कही आप मिलेंगे । 💙💗🧡


  💙💛💜 आज बड़ी देर तक वो मोहब्बत दिखाता रहा मोहसिन,
न जाने क्यों लगा कि वो मोहब्बत छोड़ जाएगा। 💙💗🧡


  💙💛💜 तेरी दुनिया में जीने से तो बेहतर है कि मर जायें,
वही आँसू, वही आहें, वही ग़म है जिधर जायें,
कोई तो ऐसा घर होता जहाँ से प्यार मिल जाता,
वही बेगाने चेहरे हैं जहाँ जायें जिधर जायें। 💙💗🧡


  💙💛💜 आदत मेरी अंधेरों से डरने की डाल कर,
एक शख्स मेरी ज़िन्दगी को रात कर गया। 💙💗🧡


  💙💛💜 हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे।
कभी चाहा किसी ने खुद तुम कहोगे।
हम ना होंगे तो ये आलम ना होगा।
मिलेंगे बहुत से पर हम सा कोई पगल ना होगा । 💙💗🧡


  💙💛💜 ना समझो कि हम आपको भुला सकेंगे।
आप नही जानते की दिल मे छुपा कर रखेंगे।
देख ना ले आपको कोई हमारी आँखों मे दूर से।
इसी लिए हम पालखे झुका के रखेंगे। 💙💗🧡


  💙💛💜 बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ,
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को,
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ। 💙💗🧡


  💙💛💜 उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था,
अपना भी नही बनाया और किसी और का भी ना होने दिया। 💙💗🧡


  💙💛💜 तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे,
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे,
अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो,
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे। 💙💗🧡


  💙💛💜 हम ना बदलेंगे
वक्त की रफ्तार के साथ,,,
जब भी मिलेंगे
अंदाज़ पुराना होगा…. 💙💗🧡


  💙💛💜 बनके अजनबी मिले है ज़िंदगी के सफर में
इन यादों को हम मिटायेंगे नहीं
अगर याद करना फितरत है आपकी
तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं ।। 💙💗🧡


  💙💛💜 दर्द बन कर दिल में छुपा कौन है
रह रह कर इसमें चुभता कौन है
एक तरफ दिल है और एक तरफ आइना
देखते है इस बार पहले टूटता कौन है ।। 💙💗🧡


  💙💛💜 पत्ते गिर सकते है पर पेड़ नहीं
सूरज दुब सकता है पर आसमान नहीं
धरती सुख सकती है पर सागर नहीं
तुम्हे दुनिया भूल सकती है पर Sahil नहीं ।। 💙💗🧡


  💙💛💜 कभी मैं भी तेरी मोहब्बत के नशे में था,
मेरी आँख में भी खुमार था, मगर अब नहीं,
कभी ये दिल बाग़-ओ-बहार था, मगर अब नहीं,
तेरा ज़िक्र वजह-ए-करार था, मगर अब नहीं। 💙💗🧡


  💙💛💜 चाहा ना उसने मुझे बस देखता रहा
मेरी ज़िंदगी से वो इस तरह खेलता रहा
ना उतरा कभी मेरी ज़िंदगी की झील में
बस किनारे पर बैठा पथर फेंकता रहा ।। 💙💗🧡


  💙💛💜 मेरी दोस्ती की कहानी आपसे है
इन साँसों की रवानी आपसे है
ऐ दोस्त मुझे कभी बुला ना देना
इस दोस्त ली ज़िंदगानी आपसे है ।। 💙💗🧡


  💙💛💜 पाने से खोने का मज़ा कुछ और है
बंद आँखों से सोने का मज़ा कुछ और है
आँसू बने लफ़ज़ और लफ़ज़ बनी जुबा
इस ग़ज़ल में किसी के होने का मज़ा कुछ और है 💙💗🧡


  💙💛💜 सांसो का पिंजरा किसी दिन टूट जायेगा
ये मुसाफिर किसी राह में छूट जायेगा
अभी जिन्दा हु तो बात क्र लिया करो ।
क्याब पता कब हम से खुदा रूठ जायेगा || 💙💗🧡


  💙💛💜 Dil tadpata hai to tadpane do,
Thoda dard ka use bhi ahsas do,
Pyar badh jayga milan ki chahat aur badegi,
Sath dene se pahle thoda intezar karne do. 💙💗🧡


  💙💛💜 इश्क हमें जीना सिखा देता है,
वफा के नाम पर मरना सिखा देता है।
इश्क नहीं किया तो करके देखो जालिम,
हर दर्द सहना सीखा देता है।। 💙💗🧡


  💙💛💜 कभी रूत ना जाना मुझे मनाना नहीं आता
कभी दूर ना जाना मुझे पास बुलाना नहीं आता
अगर तुम भूल जाओ तो वो तुम्हारी मर्जी
हमें तो भूल जाना भी नहीं आता || 💙💗🧡


  💙💛💜 तेरे बिना ज़िंदगी अधूरी है यारा
तुम मिल जाओ तो ज़िंदगी पूरी है यारा
तेरे साथ ज़िंदगी की सारी खुशिया
दुसरो के साथ हसना तो मज़बूरी है यारा ।। 💙💗🧡


  💙💛💜 Bhari jawani ho abhi gulab lagti ho,
Ishq wale ki nazar mai sharab dikhti ho,
Aaj har kisi par tere husan ka jadu chalta hai,
Lajabab ho jo lakho ke jigar par raaj karti ho. 💙💗🧡


  💙💛💜 हज़ारो बातें मिल कर एक राज़ बनता है
सात सुरों के मिलने से साज़ बनता है
आशिक़ के मरने पर कफ़न भी नहीं मिलता
और हसीनाओ के मरने पर ताज़ बनता है 💙💗🧡


  💙💛💜 चाहा था जिसको टूटकर आखिर चला गया,
इस दिल मोहब्बत का मुसाफिर चला गया,
बेरंग आज तक है ये तस्वीर प्यार की,
पूरा किये बगैर दिल से हमसफर चला गया। 💙💗🧡


  💙💛💜 Meri kismat se mujhe milegi tu,
Mere sath-sath chalegi tu,
Jitna mai tujhe pyar du,
Utna mujhe pyar degi tu. 💙💗🧡


  💙💛💜 Aaj is pyasi zami pe bundo ki chham-chham hogi,
Dil ki muskurati kali ke chehre pe sharam hogi,
Aaj honge kayi wade badenge irade,
Jawa do dil ki dhadkano mai aaj badi uffan hogi. 💙💗🧡


  💙💛💜 Jis khushi ki chahat thi mujhe khushi wo mili,
Pyar ke siva zindagi bhi mili,
Affsos yahi ki kisi ka dard na bat saka,
Wafa na kiya phir bhi mujhe unse wafa mili. 💙💗🧡


  💙💛💜 Mujhse dur ja rahe ho meri jaan liye ja rahe ho,
Koi wafa nahi kiye par sitam kiye ja rahe ho,
Wada bhi kiye tha sath-sath jine marne ka,
Tanha kar mujhe kyu mujhse dur ja rahe ho. 💙💗🧡


  💙💛💜 Mar jaynge a dost sabhi jeene wale,
Amar rahenge wahi jo hai pyar karne wale,
Jiyenge yaha kal bhi hosla rakhne wale,
Duniya badalte hai bas dil ko samjhne wale. 💙💗🧡


  💙💛💜 Kabhi ankhon mai ankhein dalkar batein karti ho,
Kabhi sharmati ho to kabhi pass ane se darti ho,
Kya sochti ho dil mein kyu aisa karti ho,
Khud karke aaj mujhe kyu rokti ho. 💙💗🧡


  💙💛💜 Piche mudna na jante hum aage badte hai,
Jiska pata na jante ho wo manzil dhundtein hai,
Koi awara kehta koi kehta pagal,
Hum dil ka kaha mante hai aur dil ka kaha karte hai. 💙💗🧡


  💙💛💜 कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी। 💙💗🧡


  💙💛💜 जिससे लड़ता हूँ मै अब उस को मना लेता हूँ,
खूब बदली है तेरे बाद अपनी आदत मैंने। 💙💗🧡


  💙💛💜 टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,
न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से,
कि मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी। 💙💗🧡


  💙💛💜 मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते हैं,
जगती आँखों के भी कुछ ख्वाब होते हैं,
जरुरी नहीं के ग़म में आँसू ही निकले,
मुस्कुराती आँखों में भी शैलाब होते हैं। 💙💗🧡


  💙💛💜 मुझे इश्क है बस तुमसे नाम बेवफा मत देना,
गैर जान कर मुझे इल्जाम बेवजह मत देना,
जो दिया है तुमने वो दर्द हम सह लेंगे मगर,
किसी और को अपने प्यार की सजा मत देना ।। 💙💗🧡


  💙💛💜 दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता;
रोता है दिल जब वो पास नहीं होता;
बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में;
और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता 💙💗🧡


  💙💛💜 दिल में हर राज़ दबा कर रखते है,
होंटो पर मुस्कुराहट सजाकर रखते है,
ये दुनिया सिर्फ खुशी में साथ देती है,
इसलिए हम अपने आँसुओ को छुपा कर रखते है। 💙💗🧡


  💙💛💜 हँसी ने लबों पे थिरकना छोड़ दिया है,
ख्वाबों ने पलकों पे आना छोड़ दिया है,
नही आती अब तो हिचकियाँ भी,
शायद आप ने भी याद करना छोड़ दिया है. 💙💗🧡

100+ Latest Sad Shayari in Hindi 2020 Page 2:-


  इश्क में हमने तो दर्द से हाथ मिला लिया,
हर गम को आंखों में छुपा लिया,
उसने तो बस हमसे रोशनी की ख्वाहिश की,
इसलिए हमने तो अपने दिल को जला लिया।


  फूलों में भी काटें होते हैं,
क्यों मोहब्बत करने वाले रोते हैं,
ज़िन्दगी भर तड़पते है इश्क करने वाले,
और तड़पाने वाले चैन से सोते हैं।


  इश्क में मेरा दिल टूटा और ख्वाब बिखर गए,
दर्द मिला इतना के हम ज़ख्मों से निखर गए।


  उनके गम में मेरी आँखें नम हो जाती हैं,
लेकिन फिर भी होटों पे हंसी लानी पड़ती है,
मोहब्बत तो हमने बस एक से की थी,
लेकिन ये मोहब्बत जमाने से छुपानी पड़ती है।


  उम्र भर के गमो का पैगाम दे गया,
हमे तो वो वेबफा का इल्ज़ाम दे गया,
चाहा था जिसे कभी टूटकर हमने,
वही हमे तन्हाईयों के सैलाब दे गया।


  वो हम पर हर इल्ज़ाम लगाते हैं,
वो हर ख़ता हमे बताते है,
हम तो बस चुप रहतें है क्योंकि,
वो हम पे अपना हक जताते हैं।


  इस जमीन से तो हम रिश्ता तोड़ जाएंगे,
बस यादों का एक शहर छोड़ जाएंगे,
वेबफा तू मुझे सताएगा कितना,
एक दिन तुझसे हमेशा के लिए मुह मोड़ जाएंगे।


  मुझे उससे कोई शिकवा है न गिला है,
मेरे दर्द की बस न ही कोई दवा है,
बहुत आँसू बह है उसके लिए,
जिसे कुदरत ने मेरे लिये बनाया ही नही है।


  इस दुनिया मे जरूरी नहीं जिसे तुम चाहो वो तुम्हारा हो,
जीने के लिए तुम्हें उसी का सहारा हो,
कश्तियाँ टूट जाया करती हैं,
ज़रूरी तो नही होता कि हर कश्ती को किनारे हो।


  मिल जाती अगर सभी को अपनी मोहब्बत में मंजिल..
तो यकीनन रातों के अँधेरों में कोई दर्द की गज़ल नहीं लिखता.


  चाहत वो नहीं जो जान देती है,
चाहत वो नहीं जो मुस्कान देती है,
ऐ दोस्त चाहत तो वो है,
जो पानी में गिरा आंसू पहचान लेती हैं.


  तोड़ दो न वो क़सम जो खाई है,
कभी कभी याद करलेने मैं क्या बुराई है,
याद आप को किये बिना रहा भी तो नहीं जाता,
दिल में जगा अपने ऐसी जो बनाई है.


  जब कभी मोहब्बत ही नही की तो रोकते क्यों हो,
खामोशियों में मेरे लिए सोचते क्यों हो,
जब रास्ते हो गए अलग अब जाने दो मुझे,
कब लौटकर आओगे पूछते क्यों हो।


  ज़िन्दगी की भीड़ में अकेले रहे गए,
उसकी जुदाई में आँसुओ के दरिया बह गए,
अब हमें कौन चुप कराने वाला है,
जो चुपाते थे वही रोने को कहे गए।


  गम में हसने वालो को रुलाया नहीं जाता,
लहरों को पानी से मिलाय नहीं जाता,
होने वाले खुद ही अपने हो जाते हैं,
किसी को कहकर अपना बनाया नहीं जाता.


  नज़र ने नज़र से मुलाक़ात कर ली,
रहे दोनों खामोश पर बात करली,
मोहब्बत की फिजा को जब खुश पाया,
इन आंखों ने रो रो के बरसात कर ली !!


  इस दुनिया मे जरूरी नहीं जिसे तुम चाहो वो तुम्हारा हो,
जीने के लिए तुम्हें उसी का सहारा हो,
कश्तियाँ टूट जाया करती हैं,
ज़रूरी तो नही होता कि हर कश्ती को किनारे हो।


  ये ज़िंदगी हमे भी बहुत प्यारी है,
लेकिन फिर क्यों ऐसा लगता है,
के तेरे विन ये हमारी नही है।


  ऐ बेवफा थाम ले मुझको मजबूर हूँ कितना,
मुझको सजा न दे मैं बेकसूर हूँ कितना,
तेरी बेवफ़ाई ने कर दिया है मुझे पागल,
और लोग कहतें हैं मैं मगरूर हूँ कितना।


  कशिश तो बहुत है मेरे प्यार मैं,
लेकिन कोई है पत्थर दिल जो पिघलाता नहीं,
अगर मिले खुद तो माँगूंगी उसको,
सुना है ख़ुदा मरने से पहले मिलते नहीं.


  चाहा है तुम्हें अपने अरमान से भी ज्यादा,
लगती हो हसीन तुम मुस्कान से भी ज्यादा,
मेरी हर धड़कन हर साँस है तुम्हारे लिए,
क्या माँगोगे जान मेरी जान से भी ज्यादा।


  आरज़ू वस्ल की रखती है परेशाँ क्या क्या,
क्या बताऊँ कि मेरे दिल में हैं अरमाँ क्या क्या,
ग़म अज़ीज़ों का हसीनों की जुदाई देखी,
देखें दिखलाए अभी गर्दिश-ए-दौराँ क्या क्या।


  हमने रस्म रिवाज़ों से बग़ावत की है,
हमने वेपन्हा उनसे मोहब्बत की है,
दुआओं में जिसे था कभी मांगा,
आज उसी ने जुदा होने की चाहत की है।


  मोहब्बत ऐसी थी कि उनको बता न सके,
चोट दिल पे थी इसलिए दिखा न सके,
हम चाहते तो नही थे उनसे दूर होना,
मगर दूरी इतनी थी उसे हम मिटा न सके।


  ऐ बेवफा सांस लेने से तेरी याद आती है,
ऐ बेवफा सांस न लूँ तो भी मेरी जान जाती है,
मैं कैसे कह दूं कि बस मैं सांस से जिंदा हूँ,
ये सांस भी तो तेरी याद आने के बाद आती है।


  कुछ तन्हाईयां वेबजह नही होतीं,
कुछ दर्द आवाज़ छीन लिया करतें है।


  सनम बेवफा है,
ये वक्त बेवफा है,
हम शिकवा करें भी तो किस्से,
कमबख्त ज़िन्दगी भी तो वेबफा है।


  न जाने क्या कमी है मुझमे,
और न जाने क्या खूबी है उसमे,
वो मुझे याद नहीं करती,
और मैं उसे भुला नहीं पाता.


  कभी बहुत थे हमारे भी चाहने वाले,
और एक दिन इश्क हुआ
और हम लावारिश हो गए.


  एक उम्र भर की जुदाई मेरे नसीब में करके,
वो तो चला गया बातें अजीब करके,
तर्ज ए वफा को उसकी क्या नाम दूं,
खुद तो दूर चला गया मुझे करीब करके।


  खड़े-खड़े साहिल पर हमने शाम कर दी,
अपना दिल और दुनिया आप के नाम कर दी,
ये भी न सोचा कैसे गुज़रेगी ज़िंदगी,
बिना सोचे-समझे हर ख़ुशी आपके नाम कर दी।


  नहीं है अब कोई जुस्तजू इस दिल में ए सनम,
मेरी पहली और आखिरी आरज़ू बस तुम हो।


  घायल कर के मुझे उसने पूछा,
करोगे क्या फिर मोहब्बत मुझसे,
लहू-लहू था दिल मेरा मगर
होंठों ने कहा बेइंतहा-बेइंतहा।


  हकीकत जान लो जुदा होने से पहले,
मेरी सुन लो अपनी सुनाने से पहले,
ये सोच लेना भुलाने से पहले,
बहुत रोई हैं आँखें मुस्कुराने से पहले.


  तुमने कहा था आँख भर कर देख लिया करो मुझे,
पर अब आँख भर आती है
और तुम नज़र नहीं आते हो.


  किस्मत और दिल की आपस में कभी नहीं बनती,
क्यूंकि जो दिल में होता है वो कभी किस्मत में नहीं होता है.


  तुम बहुत दिल नशीन थी,
पर जबसे किसी और की हो गयी हो,
तबसे ज़हर लगती हो.


  नज़रे करम मुझ पर इतना न कर,
की तेरी मोहब्बत के लिए बागी हो जाऊं,
मुझे इतना न पिला इश्क़-ए-जाम की,
मैं इश्क़ के जहर का आदि हो जाऊं।


  तेरे रुखसार पर 5ढले हैं मेरी शाम के किस्से,
खामोशी से माँगी हुई मोहब्बत की दुआ हो तुम।


  दिल की धड़कन और मेरी सदा है तू,
मेरी पहली और आखिरी वफ़ा है तू,
चाहा है तुझे चाहत से भी बढ़ कर,
मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है तू।

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages